कोरोना  काल(COVID – 19) में रोग प्रतिरोधक(emmunity power) क्षमता का ज्योतिषी आकलन |Astro Kushaal

कोरोना काल(COVID – 19) में रोग प्रतिरोधक(emmunity power) क्षमता का ज्योतिषी आकलन |Astro Kushaal

कोरोना काल में रोग प्रतिरोधक(emunity power) क्षमता का ज्योतिषी आकलन कैसे करें

(COVID-19) में रोग प्रतिरोधक(emunity)क्षमता का ज्योतिषीआकलन |Astro Kushaal

जन्म कुंडली क्या है कोरोना काल में इम्यूनिटी पावर या जिसे हम रोग प्रतिरोधक क्षमता कहते हैं वह कुंडली में कैसे देखी जाएगी

नमस्कार सर्वप्रथम तो आप सब लोग कैसे हैं

यह LOCKDOWN के समय में आप कैसे अपने रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकते हैं जन्म कुंडली में ऐसा क्या होता है जिससे आप अपनी इम्यूनिटी पावर को इस कोरोनावायरस बढ़ाकर इस बीमारी से बच सकते हैं तो आइए शुरू करते हैं जन्म कुंडली और को रोना काल में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का आपकी कुंडली में ही है समाधान

(COVID-19) में रोग प्रतिरोधक(emunity)क्षमता का ज्योतिषीआकलन |Astro Kushaal

तो आइए देखते हैं एक प्रतीकात्मक कुंडली और जानते हैं यहां कैसे रोग प्रतिरोधक क्षमता का संबंध और इस ग्रह और कैसे आपको से बढ़ाना है similarly

lagan kundali 
जन्म कुंडली में रोग प्रतिरोधक क्षमता  एवं शरीर की ताकत
जन्म कुंडली में रोग प्रतिरोधक क्षमता एवं शरीर की ताकत

कोरोना काल(COVID – 19) में रोग प्रतिरोधक(emmunity power) क्षमता का ज्योतिषी आकलन |Astro Kushaal

यहां पर हम एक कुंडली ली हुई है जिसमें सिंह लग्न है कोरोना काल(COVID – 19) में रोग प्रतिरोधक(emmunity power) क्षमता का ज्योतिषी आकलन |Astro Kushaal

आप अपनी कुंडली में जहां भी ना लिखा हो जैसे प्रथम खाना जो होगा आपकी कुंडली में( ल) लिखा होगा वहां पर आप देखें कि वह कौन सी राशि है मतलब अगर आपके कुंडली में जहां लगा लिखा हो और वह खाना नंबर 1 है मेष लग्न कहलाएगा अगर लड़के स्थान के साथ खाना नंबर दो तो वृषभ लग्न कहलाएगा इसी प्रकार से जिस भी खाने में लिखा हो वह आपका लगने कहलायेगा में आप देख सकते हैं Example of Lagan view images

Therefore, as a result, so, consequently

जन्म कुंडली मे लग्न का क्या महत्व है, आइए जानते हैं

IN ADDITION OF ATROLOGICAL REMEDY

जैसे कि हम लग्नेश देख रहे हैं सिंह है परंतु जन्म कुंडली लग्न होता क्या है इसका मैं आपको बताना चाहूंगा जो नहीं होता है वह आपका तन होता है जिसे तनु भाव कहते हैं तनु गांव में आपके शरीर की संरचना आपके शरीर का आकार आपके मुख्य मंडल और आपके शरीर का सुंदर या कमजोर है यह देखा जाएगा तो आप जानते हैं

हमने जो ऊपर एक कुंडली का उदाहरण लिया है उसमें सिंह लगना है सिंह लग्न का स्वामी सूर्य होता है इनका शरीर कांति में आकर्षक और तेज पूर्ण होगा हाइट हेल्थ बढ़िया होगी और आकर्षण करने वाले और ऊर्जा से भरपूर मनुष्य होंगे कोरोना काल में तत्व क्यों बढ़ गया

क्योंकि आपका जो तन होता है उसे मजबूत करना अति आवश्यक होता है तभी आप किसी बीमारी से लड़ सकते तो यह लग्न को सर्वप्रथम हम किसी भी जातक की कुंडली में देखेंगे अगर वह पीड़ित है तो Covid 19 (Corona) हो ने की संभावना ज्यादा बढ़ जाएगी मतलब वह शारीरिक रूप से कमजोर है तो उसे यह रोग होने की संभावना ज्यादा बढ़ जाती है

अब बात करेंगे रोग भाव लग्नेश से छठे भाव के बारे में

EXANPLE OF KUNDALI

(COVID-19) में रोग प्रतिरोधक(emunity)क्षमता का ज्योतिषीआकलन |Astro Kushaal
लगने से छठा भाव रिपु भाव रोग भाव कर्ज भाव और शत्रु भाव भी कहलाता है

http://www.astrokushaal.com/services-consultation-online-pooja/#.Xrg_YWgzY2w

लग्नेश से छठा भाव रोग भाव शत्रु भाव एवं रोग प्रतिरोधक क्षमता का भाव होता है अगर आपका लग्नेश पीड़ित है एवं रोग प्रतिरोधक क्षमता में कमी रोग भाव के स्वामी का कमजोर या शत्रु राशि का होना और 6 8 12 भाव में जाकर दूषित ग्रह के साथ होना आपका इम्युनिटी के पावर को कमजोर

किसी भी प्रकार रोग होने की संभावना बढ़ जाती है तथा

आपका शरीर रोग प्रतिरोधक क्षमता के मामले में कमजोर हो जाता है कोरोनावायरस के काल में अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाना अति आवश्यक है और लग्नेश को मजबूत करना एवं रोग गांव को शांति करने का उपाय करना चाहिए आगे बात करते हैं उपाय क्या करेंगे

ज्योतिषी उपाय(astrogical remedy) रोग प्रतिरोधक क्षमता एवं शरीर को स्वस्थ रखने के लिए जन्म कुंडली में किसको बलवान करना है आइए जानते हैं

लग्नेश को बलवान करने के ज्योतिषी उपाय Astrological remedy (COVID 19)

सर्वप्रथम तो हमें यह जानना होगा कि हमारा लग्नेश कौन सा ग्रह है तो हमने जो उदाहरण के लिए तौर पर जो कुंडली ली है ऊपर उसमें सिंह लग्न है मतलब लग्नेश सिंह राशि का हुआ सिंह राशि का स्वामी सूर्य हुआ और हमें लग्नेश मजबूत करने के लिए सूर्य राशि के उपाय करने पड़ेंगे मतलब सूर्य ग्रह के उपाय करने पड़ेंगे वह ज्योतिषी उपाय निम्न प्रकार से है

यह उपाय सिंह लग्न के आप अपना लग्नेश जानकर उस ग्रह के उपाय करें यह उदाहरण For instance relifeस्वरूप आपको बताएं जा रहे हैं

गायत्री मंत्र का जाप , सूर्य का प्रतिदिन जल अर्पण करना, गुड खाना गाय को भी गुड देना और सूर्य नमस्कार करना यह उपाय सिंह लग्न वालों के लिए होंगे इसी प्रकार आप अपनी जन्म कुंडली में आपके लग्नेश क्या है उसे आईडेंटिफाई करके आप उस ग्रह के उपाय करें

रोग भाव को संयमित आयाम सही करने के उपाय जिससे रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़े एवं शत्रु कर्ज और कोर्ट कचहरी के मामले में आप ना उलझे क्योंकि यह 6 भाव का कारक होता है

छठे भाव को कैसे जाने

ऊपर हमने देखा है की सिंह लग्न में छठे भाव का स्वामी जो रोग भाव का स्वामी है वह मकर राशि का है का तात्पर्य है कि यह शनि की राशि है और इस व्यक्ति को नसों से संबंधित हड्डियों से संबंधित एवं विकारों से संबंधित रोग हो सकता है तो इस व्यक्ति को रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए कौन से उपाय और आप अपनी कुंडली में जो छठा भाग होगा

ABOVE ALL Therefore, as a result, so, consequently

कोरोना काल(COVID – 19) में रोग प्रतिरोधक(emmunity power) क्षमता का ज्योतिषी आकलन |Astro Kushaal

Conclusion

जैसे आपकी कुंडली में अगर छठा भाव मेष का हो ऋषभ का हो या किसी भी राशि का हो तो वह आपको उसके ग्रह को पता कर आपको उसके उपाय करने चाहिए मैं आपको अगले आर्टिकल में हर ग्रह के उपाय बता दूंगा

AFTER THAT

छठे भाव के स्वामी का मंत्र जाप करें उसके ग्रह के दान करें एवं उस ग्रह के मंत्रों का जाप दान औषधि स्नान और योगा मेडिटेशन अवश्य करें जैसे आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ेगी और आपको रोग होने की संभावनाएं बहुत कम हो जाएगी तो आप भी अपना लग्नेश पहचाने और रोग भाव को जानकर उसके ग्रह को जानकर उसके उपाय शुरू करें आपको रोग होने की संभावना न्यूनतम हो जाएगी

आपका अपना

ASTRO KUAASHAAL

7000240110

click that line directly send me any qurie whatsup

https://wa.me/917000240110

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.